Success Story Of IAS Topper Himanshu Gupta: अगर आप सिविल सेवा में बेहतर रणनीति से तैयारी करें, तो देश के किसी भी कोने में बैठकर सफलता प्राप्त कर सकते हैं. आज आपको यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 में ऑल इंडिया रैंक 139 हासिल कर आईएएस बनने वाले हिमांशु गुप्ता (Himanshu Gupta) की कहानी बताएंगे. उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के छोटे से कस्बे के रहने वाले हिमांशु ने कड़ी मेहनत की बदौलत लगातार तीन बार यूपीएससी परीक्षा पास कर अनोखा रिकॉर्ड बना दिया. उनकी कहानी हमें बताती है कि किसी भी गांव या कस्बे में रहकर भी यूपीएससी जैसी परीक्षा की तैयारी कर सफलता प्राप्त की जा सकती है. 

ऐसे शुरू हुआ हिमांशु का सफर 
हिमांशु हाई क्लास फैमिली से नहीं, बल्कि साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं. उनके पिता शॉपकीपर हैं और माता ग्रहणी हैं. हिमांशु प्रतिदिन अपने पिता की दुकान पर जाते थे और वहां अखबार पढ़ते थे. अखबार पढ़ते पढ़ते उनके अंदर यूपीएससी को लेकर उत्साह जाग गया. फिर क्या था हिमांशु ने सिविल सेवा की तैयारी करने का फैसला कर लिया. इसके लिए उन्होंने दिल्ली जाने की वजह घर पर बैठकर डिजिटल तरीके से तैयारी करने का फैसला किया. उनका यह फैसला सही साबित हुआ. 

लगातार तीन बार पास की यूपीएससी परीक्षा 
हिमांशु ने सबसे पहले एनसीईआरटी की किताबें पढ़ीं और फिर उसके बाद स्टैंडर्ड बुक से तैयारी की. उन्होंने कोई कोचिंग नहीं ली और लगातार मेहनत करते रहे. हिमांशु ने पहले प्रयास में साल 2018 में यूपीएससी परीक्षा पास की और रैंक के मुताबिक उन्हें इंडियन रेलवे सर्विस मिली. फिर 2019 में उन्होंने सफलता हासिल की और इस बार इंडियन पुलिस सर्विस मिली. उन्होंने हार नहीं मानी और साल 2020 में तीसरी बार परीक्षा पास कर आईएएस सेवा हासिल कर ली. 

यहां देखें हिमांशु गुप्ता का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य कैंडिडेट्स को हिमांशु की सलाह 
हिमांशु ने सेल्फ स्टडी की बदौलत सफलता हासिल की. तैयारी के लिए उन्होंने इंटरनेट का सहारा लिया और डिजिटल तरीके से मॉक टेस्ट दिए. जो भी स्टडी मैटेरियल उन्हें इंटरनेट पर मिलता हुआ, उसकी हार्ड कॉपी निकाल लेते और पढ़ाई करते. हिमांशु कहते हैं कि यूपीएससी की तैयारी आप किसी कस्बा या गांव में रहकर भी कर सकते हैं. आप घर बैठकर इंटरनेट की मदद से अच्छी रणनीति बनाएं और खुद को तैयारी के लिए मजबूत बनाएं. लगातार मेहनत करते रहे और अपनी तैयारी का एनालिसिस भी करें. जहां ग़लतियां लगे उन्हें सुधारें और बेहतर तरीके से पेपर दें.  

यह भी पढ़ेंःRSMSSB Computer Exam 2021: राजस्थान स्टाफ सिलेक्शन कमीशन ने कंप्यूटर भर्ती परीक्षा की तारीख घोषित की, देखें शेड्यूल

IIT Madras Recruitment 2021: पीएचडी कर चुके उम्मीदवारों के पास आईआईटी में असिस्टेंट प्रोफेसर बनने का मौका, ऐसे करें अप्लाई

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here